सानिया मिर्जा बनी देश की पहली मुस्लिम महिला पायलट

Share this post

राजन गुप्ता

मिर्जापुर(उत्तर प्रदेश)। देश व प्रदेश की पहली मुस्लिम महिला पायलट के लिए सानिया मिर्जा चुनी गई है। हिंदी मीडियम से पढाई करने वाली सानिया ने कहा कि हिंदी मीडियम वाले भी मुकाम पा सकते है । इरादा पक्का होना चाहिए। सदर तहसील क्षेत्र के जसोवर गाँव निवासिनी सानिया मिर्जा प्रदेश की पहली फाइटर पायलट के लिए चयन किया गया है। टीवी मैकेनिक शाहिद अली की बेटी सानिया मिर्जा ने NDA की परीक्षा पास कर यह मुकाम हासिल किया हैं। उत्तर प्रदेश की पहली महिला है जो फाइटर पायलट में जगह बनाया है। 27 दिसंबर को वह पुणे में ज्वाइनिंग कर अपने सपनों की उडान को पंख लगा कर मंजिल को प्राप्त करेंगी।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद से हिंदी मीडियम शिक्षा ग्रहण कर पायलट बनने का सपना देखा और उसे हासिल कर दिखा दिया कि अगर हौसला बुलंद हो तो कोई भी मंजिल मुश्किल नहीं होती । NDA की परीक्षा पास कर भारतीय वायु सेना में देश की पहली मुस्लिम गर्ल फाइटर पायलट बनने जा रही है। अपनी प्रतिभा और जुनून के बल पर देहात कोतवाली थाना क्षेत्र के छोटे से गांव जसोवर निवासी टीवी मकैनिक की बेटी ने जिला ही नहीं प्रदेश और देश का नाम रोशन किया है।

सानिया मिर्जा भारतीय वायु सेना के फाइटर पायलट पर चयनित हुई है। बेटी के इस मुकाम पर पहुंचने पर माता पिता के साथ ही गांव वाले भी गौरवान्वित अपने आपको महसूस कर रहे हैं । सानिया मिर्जा देश की पहली फाइटर पायलट अवनी चतुर्वेदी से प्रेरित होकर यह मुकाम हासिल किया है। पहली बार सानिया मिर्जा को परीक्षा में सफलता नहीं मिली, दूसरी बार में उसे सफलता मिली। सानिया देश की दूसरी लड़की है जिसका चयन फाइटर पायलट के रूप में हुआ है।

सानिया ने बताया कि देश की पहली फाइटर पायलट महिला अवनी चतुर्वेदी से प्रेरित होकर मैंने हाईस्कूल की परीक्षा पास करने के बाद ही मन बना लिया था कि मुझे फाइटर पायलट बनना है। सानिया ने कहा कि सब कुछ इंग्लिश में होने के बाद भी यूपी बोर्ड से हिंदी मीडियम से पढ़ाई करने के बावजूद कोई दिक्कत नहीं हुई। कहा जाता है कि सीबीएसई आईएससी बोर्ड वाले ही बच्चे एनडीए में सफलता पाते हैं । मगर हमने वह हासिल करके दिखा दिया की यूपी बोर्ड वाले भी बच्चे एनडीए पास कर सकते हैं।

सानिया ने प्राइमरी से लेकर 10 वीं तक की पढ़ाई गांव के ही पंडित चिंतामणि दुबे इंटर कॉलेज से की। इसके बाद उसका दाखिला नगर के गुरु नानक गर्ल्स इंटर कॉलेज में हुआ। 12 वीं यूपी बोर्ड में वह जिले की टॉपर रही। इसके बाद सेंचुरियन डिफेंस अकैडमी से तैयारी आरम्भ किया। अब सफलता मिली है। बताया कि एक दिन पहले ज्वाइनिंग लेटर आया है। 27 दिसम्बर को पुणे में जाकर ज्वाइन करना है। सानिया मिर्जा ने सफलता का श्रेय अपने माता-पिता के साथ ही सेंचुरियन डिफेंस अकैडमी को देती हैं।

नेशनल डिफेंस एकेडमी 2022 की परीक्षा में कुल महिला और पुरुष मिलाकर कुल 400 सीटें थी। जिसमें महिलाओं के लिए 19 सीटों थी उसमें दो सीट फाइटर पायलट के लिए आरक्षित थी । इन्हीं 2 सीटों में अपनी प्रतिभा के बल पर सानिया जगह पाने में कामयाब रही।

Ravi pandey
Author: Ravi pandey

Related Posts

Live Corona Update

Advertisement

Advertisement

Weather

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Live Cricket Updates

Stock Market Overview

Our Visitors

0 3 9 7 8 9
Users Today : 151
Users This Month : 12015
Total Users : 39789
Views Today : 198
Views This Month : 17578
Total views : 64687

Radio Live

Verified by MonsterInsights