चोरी की दो पिकअप से 5100 पाउच शराब बरामद, 6 शराब तस्कर गिरफ्तार

Share this post

पिकअप में बरामद 5100 पाउच अवैध अंग्रेजी शराब कीमती 06 लाख रुपये पुलिस ने बताया

सोनभद्र(उत्तर प्रदेश)। बिहार राज्य में शराब बन्दी के बाद से चार राज्यों से जनपद की सीमा लगने के कारण अवैध शराब की तस्करी करने वाले इस रास्ते का इस्तेमाल करते है। आज पुलिस को लगातार कई दिनों से आसूचना प्राप्त हो रही थी कि सीमावर्ती प्रान्त बिहार में शराब बन्दी के कारण अवैध रुप से भारी मात्रा में शराब तस्करी बिहार प्रान्त में की जा रही है। इसके आधार पर क्राइम ब्रांच , विंढमगंज और दुद्धी पुलिस की टीम ने घिवही के पास से दो पिकअप से 5100 शीशी अवैध अंग्रेजी शराब बरामद करने के साथ ही 6 लोगो को गिरफ्तार करने में सफल रही।

आज प्रेसवार्ता करके पुलिस अधीक्षक डॉ यशवीर सिंह ने बताया कि क्राइम ब्रांच, थाना विण्ढमगंज व दुद्धी पुलिस की संयुक्त टीम गठित की गयी थी , इस टीम द्वारा अथक लगन व परिश्रम से अपना आसूचना संजाल तैयार किया गया तथा अपराधियों की धरपकड़ और अवैध शराब की बरामदगी के लिए योजना बनाकर कार्यवाही की जा रही थी कि इसी दौरान इस टीम को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि तस्करों द्वारा दो पिकअप जिसका नम्बर BR1GG9246(फर्जी नम्बर) और BR1GG6672 (फर्जी नम्बर) के डाला और बॉडी में चेचिस के अंदर जगह जगह पर भारी मात्रा में अवैध अंग्रेजी शराब को छुपा कर तस्करी कर शराब की बड़ी खेप बिहार ले जा रहे है। इस सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुए थाना विण्ढमगंज व दुद्धी की पुलिस टीम के द्वारा घिवही रेलवे क्रासिंग के पास से 02 अदद पिकअप में बैठे कुल 06 व्यक्तियों (प्रत्येक में 03-03 व्यक्ति) को भारी मात्रा में अवैध अंग्रेजी शराब के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। पकड़े गए लोगों के साथ बरामद महिंद्रा बोलेरो पिकअप वाहनों की तलाशी लेने पर पाया गया कि इन अभियुक्तों के द्वारा पिकअप वाहन के डाला एवं बॉडी में विशेष रूप से जगह बनाकर उनके अंदर अवैध शराब के पाउच/टेट्रा पैक रखे गए हैं एवं ऐसी शराब को छुपाकर उसके ऊपर लोहे की चद्दर लगाकर वास्तविक डाला/ट्रॉली का रूप दे दिया गया है जिससे कोई यह न जान पाए कि बॉडी के अंदर डाला/ट्रॉली में शराब छुपाई गई है। उपरोक्त गिरफ्तारी एवं बरामदगी के सम्बन्ध में धारा 419, 420, 467, 468, 471, 411, 120बी भादवि व धारा 60/63/72 आबकारी अधिनियम का अभियोग पंजीकृत कर विधिक कार्यवाही की जा रही है ।


वही पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में अभियुक्तों द्वारा बताया गया कि बिहार प्रांत में शराबबंदी होने के कारण शराब की उपलब्धता नहीं हो पा रही है इसी वजह से अगल-बगल के राज्यों से शराब की तस्करी कर बिहार में लाई जाती है जहां पर महंगे दामों पर वह शराब बेची जाती है जिससे काफी मुनाफा होता है। इसके पहले भी हम लोग कई बार इस तरफ से अंग्रेजी शराब की बड़ी खेपें तस्करी कर बिहार में ले जा चुके हैं, आज भी हम लोग अवैध अंग्रेजी शराब की यह खेप म्योरपुर से बिहार में बेचने के लिये ले जा रहे थे । सोनू राय ने पूछताछ करने पर बताया कि हम लोग जो पिकअप लेकर आये हैं वह पिकअप चोरी की है तथा दोनों गाड़ियों पर जो नम्बर प्लेट लगा है वह फर्जी है। इस प्रकार की तस्करी में हम लोग प्रायः चोरी लूट की गाड़ियों का ही इस्तेमाल करते हैं और उनके नंबर प्लेट फर्जी तरीके से बदलकर उनका प्रयोग करते हैं यह शराब हम लोग बिहार में लेकर जा रहे थे वहां इसको बेच कर हम लोग भारी मुनाफा कमा लेते हैं यहां पर रेणुकूट का रहने वाला कौशल कुमार नाम का व्यक्ति है जो थोक दुकानदार फुटकर दुकानदार और लोकल के लोगों से तालमेल कर हम लोगों को माल उपलब्ध करवाता है और यहां के तमाम दुकानदार ऊंचे दामों पर हम लोगों को अंग्रेजी और अन्य प्रकार की शराब उपलब्ध करा देते हैं। मेरी और मेरे अन्य साथियों की वार्ता यहां के थोक एवं फुटकर दुकानदारों से भी होती है और तालमेल बनाकर हम लोग किसी हाते या दुकान के आस पास से ही माल लोड कर लेते हैं। जो माल आज पकड़ा गया है वह माल हम लोगों ने म्योरपुर में राहुल जयसवाल और खड़िया रेणुकूट दुकान से लोड किया था। हम लोगों को कौशल ही राहुल जायसवाल, अनुग्रह नारायण सिंह इत्यादि के यहां माल के लिए भेजते हैं । पूछताछ में राहुल जायसवाल ने बताया कि मेरे पिता के नाम से म्योरपुर में बीयर की दुकान है और कौशल से संपर्क हो जाने पर ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में मैं शराब के कारोबार में लगे हुए लोगों से अपने संपर्कों का फायदा उठाकर थोक दुकानदार से सेटिंग करके अंग्रेजी शराब की खेप मंगवाता था और सोनू राय और बिहार के अन्य लोगों को ऊंचे दामों पर बेच दिया करता था। इसके पूर्व भी मैं कई बार बिहार की पार्टी को अवैध तरीके से अंग्रेजी शराब की सप्लाई कर चुका हूं। मेरी कौशल कुमार रेनूकुट से शराब को बिहार भेजने के लिए बातचीत होती है । कौशल कुमार ही मेरे यहां से इनलोगों को शराब दिलवाता है। हम लोग थोक शराब विक्रेता और फुटकर शराब विक्रय के दुकानदार आपस में तालमेल से यह कारोबार करते हैं जिसमें थोक दुकानदार भी ज्यादा मुनाफा लेकर फुटकर दुकानदार के कोटे का माल शराब अवैध तरीके से इन तस्करों को उपलब्ध करा देते हैं और फुटकर दुकानदार तस्करों से भारी मुनाफा लेते हुए अपना माल तस्करों को बेच देते हैं इससे दुकानदार का कोटा भी पूरा हो जाता है और मुनाफा भी बहुत ज्यादा होता है। इसमें हम सभी का फायदा होता है। जो शराब मैने इनको बिहार ले जाने के लिए बेची है वह शराब के गोदाम से दुकान संख्या 13678 खड़िया शक्तिनगर जो अनुग्रह नारायण सिंह के दुकान के लिए आबंटित है ।
गिरफ्तार अभियुक्तगण का विभिन्न स्थानों पर काफी आपराधिक इतिहास पाया गया है जो कि अवैध शराब की तस्करी में पूर्व में भी कई बार जेल जा चुके हैं और इनके विरुद्ध बिहार प्रांत सहित तमाम स्थानों पर मुकदमा पंजीकृत हैं चोरी के बोलेरो पिकअप वाहन के संबंध में संबंधित थाने में पंजीकृत एफआईआर के क्रम में अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है अभियुक्तों से गहनता से पूछताछ करते हुए इनके अन्य आपराधिक कृत्यों की भी जानकारी कर विधिक कार्यवाही की जा रही है ।

पुलिस ने इन तस्करों के पास से 5100 पाउच अवैध अंग्रेजी शराब कीमती 06 लाख रुपये ,बोलेरो पिकअप BR-1 GG 9246 (असली नम्बर BR6GE8540 सम्बन्धित मु0अ0सं0 8/23 धारा 379 भादवि थाना सराय जनपद वैशाली, बिहार ।बोलेरो पिकअप BR-1 GG 6672 (फर्जी नम्बर) बरामद हुआ है।

पुलिस द्वारा इन तस्करों सोनू राय पुत्र उमेश राय, निवासी सबलपुर नेवल टोला, थाना सोनपुर, जनपद छपरा, बिहार, बबलु कुमार पुत्र विजय राम निवासी अनाईठ छोटी लाइन, थाना नेवादा, जनपद आरा, भोजपुर बिहार ।अजय पासवान पुत्र सुखदेव पासवान, निवासी अस्तीपुर, थाना हाजीपुर, जनपद वैशाली बिहार , सचिन कुमार राय पुत्र उमेश राय, निवासी सबलपुर नेवल टोला, थाना सोनपुर, जनपद छपरा, बिहार , राहुल जायसवाल पुत्र लालता प्रसाद जायसवाल, निवासी म्योरपुर, थाना म्योरपुर जो भाजपा नेता का पुत्र या भतीजा बताया जा रहा है , ध्यानचन्द्र यादव पुत्र झुरई यादव, निवासी करकोरी, थाना म्योरपुर को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पूछताछ में कौशल कुमार पुत्र अज्ञात, निवासी रेनूकुट, थाना पिपरी और अनुग्रह नरायण सिंह, पुत्र अज्ञात, निवासी खड़िया, थाना शक्तिनगर का नाम पकड़े गए शराब तस्करों के माध्यम से सामने आया है, जिसकी जांच के पुलिस जुटी हुई है।

इन शराब तस्करों की गिरफ्तारी एवं बरामदगी में पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक श्रीकान्त राय,थाना दुद्धी , प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार ठाकुर, थाना विण्ढमगंज, उ0नि0 नरेन्द्र प्रसाद,उ0नि0 विजय प्रताप सिंह,उ0नि0 तेजबहादुर राय, हे0का0 अजीत राय, का0 सूर्या सिंह, का0 सौरभ जायसवाल, का0 अजय कुमार, का0 विनय कुमार, का0 पंकज कुमार, का0 संजय यादव, का0 विवेक सिंह, का0 मनीष यादव शामिल रहे।

इस सराहनीय कार्य को करने वाली पुलिस टीम के उत्साहवर्धन हेतु पुलिस अधीक्षक के द्वारा ₹10000 के नगद पुरस्कार से पुरस्कृत किए जाने की घोषणा की गई है।

Ravi pandey
Author: Ravi pandey

Related Posts

Live Corona Update

Advertisement

Advertisement

Weather

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Live Cricket Updates

Stock Market Overview

Our Visitors

0 4 4 5 5 6
Users Today : 84
Users This Month : 3502
Total Users : 44556
Views Today : 112
Views This Month : 4937
Total views : 71705

Radio Live

Verified by MonsterInsights