भाकपा ने लखीमपुर खीरी कांड की बरसी पर दिया धरना

Share this post

भाकपा और किसान सभा के कार्यकर्ताओं ने संयुक्त रूप से कलेक्ट्रेट में शहीद किसानों को दिया श्रद्धांजलि और मांगों को लेकर दिया धरना

सोनभद्र। लखीमपुर खीरी हत्याकांड की बरसी पर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी और उप्र किसान सभा से जुड़े कार्यकर्ताओं ने सुबह ग्यारह बजे कलेक्ट्रेट पर शहीद किसानों को श्रद्धांजलि देते हुए धरना दिया। धरना के माध्यम से कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी किया और कहा कि केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार पूरी तरह से हिटलरशाही पर अमादा है। आज के ही दिन लखीमपुर खीरी में आंदोलनकारी पांच -पांच किसानों को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के सह पर उनके लाडले बेटे ने अपनी गाड़ी से रौंदा और आज भी लखीमपुर खीरी हत्याकांड का मुख्य साजिशकर्ता केंद्र सरकार में गृह राज्यमंत्री के पद पर आसीन हैं। जो भाजपा सरकार की हठधर्मिता को दर्शाता है।

धरना के माध्यम से पार्टी कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार पर जम कर निशाना साधा और सरकार की ग़लत नीतियों का खुल कर विरोध किया। इस दौरान पार्टी ने लखीमपुर खीरी हत्याकांड के दोषियों के उपर कानूनी कार्रवाई करने। हत्याकांड में मुख्य साजिशकर्ता केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा “टेनी” को बर्खास्त कर मुकदमा चलाने। जेल में बंद आंदोलनकारी किसानों को रिहा करने। किसान आंदोलन के दौरान 750 शहीद आंदोलनकारी किसानों के परिवारों को आर्थिक सहायता दिए जाने और आदिवासी बाहुल जनपद में उच्च शिक्षा के लिए विश्वविद्यालय व बेहतर चिकित्सा के लिए एम्स जैसे संस्थान की स्थापना कराए जाने आदि सात सूत्रीय मांग पत्र को राष्ट्रपति के नामित जिलाधिकारी को सौंपा।

जिलाधिकारी को स्थानीय समास्याओं संबंधित नौ सूत्रीय मांग पत्र को समाधान कराने के लिए भारतीय कम्युनिष्ट पार्टी के कार्यकर्ताओं ने दिया। जिसमें सोनभद्र को सूखा घोषित कर लोगों को राहत पैकेज देने।सोन पंप को विस्तार करने और किसानों के खेत तक पानी पहुंचाने। जनपद में वनाधिकार कानून का मुस्तैदी से पालन कराते हुए गरीबों, आदिवासियों, भूमिहीनों को भूमि, पक्का आवास और जिवकोपार्जन के लिए खेती की भूमि आवंटित किए जाने। खनन क्षेत्र में चल रहे मशीनों पर रोक लगा कर मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराने।

विकास खंड कोन के चकरीया गांव में चार वर्ष से तैयार इंटर कालेज और स्वास्थ्य केंद्र को तत्काल चालू कराने। आदिवासियों, वनवासियों और गरीबों पर वन विभाग द्वारा किए जा रहे शोषण/ उत्पीड़न पर रोक लगाने और दर्जनों नक्सल गांवों को जोड़ने वाले पटवध बसुहारी मार्ग को यथाशीघ्र पुरा करने संबंधित नौ सूत्रीय मांग पत्र सौंपा और चेताया कि जल्द ही मांगों का समाधान नहीं हुआ तो पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा कभी भी बड़ा आंदोलन किया जा सकता।

इस मौके पर प्रमुख रूप से भारतीय कम्युनिष्ट पार्टी के जिला सचिव कामरेड आरके शर्मा, सह सचिव कामरेड देव कुमार विश्वकर्मा, पूर्व लोकसभा प्रत्याशी एडवोकेट अशोक कुमार कन्नौजिया, प्रेम चंद्र गुप्ता, हृदय नारायण गुप्ता, नागेन्द्र कुमार मौर्य, धनुक प्रसाद, राम लाल, दलवीर सिंह खरवार, अरविन्द कुमार पाण्डेय, विरेन्द्र सिंह गोंड, छोटे लाल गोंड आदि प्रमुख कार्यकर्ता मौजूद रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता किसान सभा के जिला संयोजक कामरेड एसएस मिश्रा ने और संचालन कामरेड चंदन प्रसाद पासवान ने किया।

Ravi pandey
Author: Ravi pandey

Related Posts

Live Corona Update

Advertisement

Advertisement

Weather

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Live Cricket Updates

Stock Market Overview

Our Visitors

0 1 6 4 4 4
Users Today : 186
Users This Month : 1247
Total Users : 16444
Views Today : 300
Views This Month : 1899
Total views : 30426

Radio Live

Verified by MonsterInsights